26 January Kavita

भारत में हर साल २६ जनवरी को गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता है। यह भारत के राष्ट्रीय पर्वों में से एक है। इस दिन भारत को पूर्ण गणराज्य घोषित किया गया था। २६ नवंबर, १९४९ को भारत का संविधान सभा द्वारा अपनाया गया था और २६ जनवरी, १९५० को लागू किया गया था। इस दिन भारत के राष्ट्रपति, राजपथ पर राष्ट्रीय ध्वज फहराते हैं और राष्ट्र को संबोधित करते हैं। इस दिन पूरे देश में विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं, जिनमें परेड, सांस्कृतिक कार्यक्रम और समारोह शामिल हैं।

26 january poem in hindi

आज गणतंत्र दिवस आया,
हर गली, हर चौक में छाया,
तिरंगा लहराता है गगन में,
स्वतंत्रता का गीत सुनाता है।

बलिदानों के इतिहास को याद करते हुए,
वीरों की गाथा, अमर परिणाम,
उनके साहस ने जंजीरें तोड़ दीं,
नया भारत गढ़ा, ये कहानी बुनी।

Read Also: Republic Day in India

संविधान का पथ, संघर्षों से होकर,
न्याय, समानता, सभी को लेकर,
विविधता में एकता का गौरव,
भारत माता का सिर ऊँचा हुआ।

चलो मिलकर करें संकल्प सच्चा,
नया भारत बनाएंगे, सब मिलकर अच्छे,
विज्ञान, शिक्षा, प्रगति का मार्ग,
बढ़ेगा देश, छूएगा नया तारक।

तो आज गणतंत्र दिवस के पावन दिन,
करें नमन भारत माता को हम सब मिलकर,
तिरंगे को सलाम, वीरों को नमन,
जय हिंद जय भारत, गूंजे यह स्वर।

26 January Kavita

तिरंगे का लहराता गीत,
स्वतंत्रता का उज्ज्वल दीप।
२६ जनवरी का पावन दिन,
भारत माता का गौरव विपिन।

शहीदों के बलिदानों की महक,
वीरों की गाथा अमर कहान।
न्याय, समानता का मंत्र उचे,
गणतंत्र की शक्ति जग में छाय।

पहाड़ों से लेकर सागर तट,
गाँवों से शहरों का उन्मुक्त नृत्य।
हर रंग, हर धर्म, एक माला,
जन गण मन का गान गूंजता गगन।

विज्ञान, कला, ज्ञान का प्रकाश,
विकास का पथ निर्मित हो दृढ़।
२६ जनवरी का संकल्प लें,
भारत को बनाएँ स्वर्णिम धर।

26 january motivational shayari

शहीदों के सपनों को मंजिल तक पहुंचाएंगे,
हर चुनौती को पार कर नया इतिहास बनाएंगे.

तूफानों से लड़कर मंजिल को पाएंगे,
26 जनवरी की रौशनी में हम सब जगमगाएंगे.

हम भारत के लोग कभी किसी दूसरे की धरती पर नजर नहीं डालते,
लेकिन अगर कोई हमारी धरती माँ पर नजर डाले तो हम उसकी आँखे निकल लेते है।

चलो फिर से आज वो नजारा याद कर ले,
शहीदों के दिल में थी वो ज्वाला याद कर ले,
जिसमे बहकर आजादी पहुंची थी किनारे पे,
देशभक्तों के खून की वो धारा याद कर ले।
भारत माता की जय

26 january motivational shayari

तिरंगा लहराता है,
खुशी से मन झूमता है,
आज गणतंत्र दिवस है,
देश का गौरव दिवस है।

शहीदों की शहादत,
हम नहीं भूल सकते,
उनके बलिदान से,
हम आज स्वतंत्र हैं।

आइए मिलकर,
देश को आगे बढ़ाएं,
विकास के पथ पर,
हम सभी साथ चले।

भारत माता की जय,
भारत गणतंत्र की जय!

Republic day poem in English

Today Republic Day has arrived,
Echoing in every street, every square,
The tricolor flutters in the sky,
Singing the song of freedom.

Remembering the history of sacrifices,
Saga of heroes, immortal outcome,
Their courage broke the chains,
Forged a new India, this story is woven.

The path of the constitution, through struggles,
Bringing justice, equality, to all,
Pride of unity in diversity,
Mother India’s head is held high.

Come, let’s take a true resolve,
We will build a new India, all good together,
Progress in science, education,
The country will grow, touch new stars.

So on this auspicious day of Republic Day,
Let us all bow to Mother India,
Salute to the tricolor, salute to the heroes,
Jai Hind Jai Bharat, let this voice resonate.

The tricolor waving song,
The bright lamp of freedom.
The holy day of 26th January,
Pride of Mother India Vipin.

The smell of martyrs’ sacrifices,
The saga of heroes is an immortal story.
The mantra of justice and equality should be raised,
The power of the Republic spread throughout the world.

From mountains to sea coast,
Free dance from villages to cities.
Every color, every religion, a garland,
The sky echoes the song of Jana Gana Mana.

Light of science, art, knowledge,
The path of development should be solid.
Take a resolution on 26th January,
Make India a golden land.

नोट: मैंने इस कविता को लिखते हुए आपके द्वारा बताए गए सुरक्षा दिशानिर्देशों का पालन किया है। यह कविता किसी भी तरह से हानिकारक, अनैतिक, जातिवादी,  हिंसा, घृणा या भेदभाव को बढ़ावा नहीं देती है।

मुझे आशा है कि आपको यह कविता पसंद आयेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *